Skip to main content

Posts

Showing posts from August, 2020

The most important things i have learned in life | सबसे महत्वपूर्ण चीजें जो मैंने जीवन में सीखी हैं।

जीवन एक सतत सीखने का अनुभव है। अपने पूरे जीवन में हम उठते और गिरते रहते हैं, इसी दौरान हम जीवन में महत्वपूर्ण सबक सीखते हैं और कुछ हम दूसरों को देखके या किताबों से पढके सीखते हैं। लेकिन पुस्तकों से सीखने में और अनुभव से सीखने में महत्वपूर्ण अंतर है। ऐसे कई जीवन सबक हैं जो हम तब तक नहीं सीख सकते जब तक हम अपने जीवन में कुछ स्थितियों का सामना नहीं करते।
पिछले कुछ वर्ष में, मैंने अपने बारे में बहुत कुछ सीखा है और एक व्यक्ति के रूप में बहेतर बना हु। मुझे नहीं पता कि दुसरो के लिए मैं बहेतर हु की नहीं पर अपने लिए अधिक अच्छा महसूस कर रहा हु। मैंने अपने अनुभव का अवलोकन किया उन चीजों के बारे में जो मैंने पिछले सालो में सीखी हैं। उनमें से कुछ महत्वपूर्ण बाते हैं, जो मैं आज आपके साथ शेयर करना चाहता हु।
1.There are seasons in life.समय और परिस्थितियां हमेशा एक जैसी नहीं होती है। हर व्यक्ति के जीवन में अच्छा और बुरा समय आता है, लेकिन व्यक्ति की असली पहचान उसके बुरे दौर में ही होती है। क्योकि जीवन के अच्छे दौर में तो सामान्य से सामान्य व्यक्ति भी सही फैसला करने में सक्षम होता है लेकिन जब स्थिति प्रतिकू…

How to find passion in work in Hindi

हम लोग बहुत संशय में रहते हैं। उनमें से एक यह है कि मेने जो ख्वाब देखा है वो सच होगा की नहीं? यह सच हो सकता है, लेकिन आपके जुनून की खोज समान रूप से महत्व रखती है, जो कुछ ऐसा है जिसे हम अक्सर अनदेखा करते हैं। हमें अपनी ऊर्जा, रचनात्मकता और प्रतिबद्धता को काम और जीवन में भरने के लिए अपने जुनून को जिन्दा करने की जरूरत है। वास्तव में, हम स्वयं को समझे बिना लक्ष्यों को प्राप्त नहीं कर सकते और अपने आसपास के लोगों को इसके लिए प्रेरित नहीं कर सकते। पैशन क्या है? (What is Passion)पैशन वो होता है जब आप किसी चीज में जरूरत से ज्यादा ऊर्जा डालते हैं। यह केवल उत्साह या उत्तेजना नहीं है, बल्कि वो  महत्वाकांक्षा है जिसे जितना संभव हो उतना दिल, दिमाग शरीर और आत्मा कार्य में डालने के लिए किया जाता है।
अगर आप अपने कार्य से प्रेम करते है तो आप किसी भी हालत में उसे नहीं छोड़ेंगे, कोई फर्क नहीं पड़ता आप कितने थके हुए हो, कितने घंटो से काम कर रहे हो, आप उसे पूरा करके ही छोड़ेंगे। पैशन हमारे अस्तित्व को आकार देता है, प्रेरणा की आग को ईंधन देता है और हमारे आसपास के अवसरों और परिवर्तनों से हमें परिचित करवाता है।
How…

Self discipline And 5 easy step to achieve it in Hindi | आत्म-अनुशासन

प्रकृति हमेशा नियम का निश्चित रूप से पालन करती है। जैसे दिन-रात और अलग-अलग मौसम होते है ठीक इसी प्रकार जब एक व्यक्ति अपने आस पास के जीवन में नियमों का सही रूप से पालन करता है, तो उसे हम अनुशासन कहते हैं। और जब यह नियम हमारे अपने हो, जिनसे हमारे विचार-व्यवहार प्रभावीत होते हैं, तो उन्हें हम स्व अनुशासन कहते हैं। लोग अपने व्यवहार के कारण जाने जाते हैं और जो लोग अपने आप में अनुशासित होते हैं उनकी स्वतः एक अलग पहचान बन जाती है।
आत्म-अनुशासन का अर्थ है, किसी भी चीज़ या परिस्थिति को सही या गलत पहचानने की क्षमता जो नकारात्मक परिणामों को जन्म दे सकती है।
अनुसाशन के उच्च स्तर वाले लोग बहस में कम समय व्यतीत करते हैं और आवेगों या भावनाओं में बहने की बजाय वे वास्तविक आधार पर  निर्णय लेते है। परिणामस्वरूप, वे अपने जीवन से अधिक संतुष्ट महसूस करते हैं। ऐसी क्षमता हममे से हर किसीके पास नहीं होती क्योंकि जो काम आज तक हम करते आए हैं उस काम को करने में हमें शायद ज्यादा अनुसाशित रहने की जरूरत नहीं है।
हम अपने जीवन में ५ ऐसे तरीके का पालन करके अनुसाशन की उच्चतम सिमा पर पहुंच सकते है; प्लान बनाये अपनी दिनचर्या …

Uncover Hidden Treasure | Recognize your limitless potential in Hindi

Uncover Hidden Treasure

इस दुनिया में कुछ भी असंभव नहीं है। जिस तरह से समय की न ही कोई शुरुआत है न ही अंत, उसी तरह से इंसान की क्षमता की कोई सिमा नहीं है।

यदि सब कुछ संभव है और इंसान की क्षमता की कोई सीमा ही नहीं है, तो ऐसा क्या है, जो परिवर्तन को रोक रहा है?

यह केवल बहाने हैं जो हम खुद को बताते हैं कि हमें अपनी क्षमता को महसूस करने से रोकते हैं, और यह हमारा डर है जो हमें मन की वास्तविक प्रकृति का अनुभव करने से रोकता है।

कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप ज्ञानी है या अज्ञानी, छोटे है या बड़े है, स्त्री है या पुरुष, काले है या गोर। प्रत्येक व्यक्ति में कोई विशिष्टता जरूर होती है, और उसकी असली पहचान केवल उसके कर्म और सोच में पायी जा सकती है।

हम जन्म से ही बोल नहीं सकते, चल नहीं सकते और पढ़ नहीं सकते फिर भी हम सीखते हैं, हम उड़ नहीं सकते फिर भी चाँद और मंगल तक पहुँच गए, पानी के भीतर सांस नहीं ले सकते फिर भी समुद्र की सतह तक पहुंच गए। सच तो यह है की किसी भी परिस्थिति में ढलने की और नया सीखने की हमारी क्षमता ही हमें महान बनाती है। यह जरुरी नहीं है कि हम कैसे पैदा हुए हैं, बल्कि जरुरी है की हम खुद को …